क्या होता है सट्टा मटका ? और इसे कैसे खेल जाता है ? देखो

सट्टा मटका क्या है ।

सट्टा मटका एक तरह का जुआं होता है आप इसे जुओं का राजा भी कह सकते हैं क्योंकि इसमें बड़े पैमाने पर जुआं खेला जाता है हालांकि भारत में किसी भी तरह का जुआं गैरकानूनी होता है लेकिन इसके बावजूद सट्टा मटका भारत में बड़े पैमाने पर खेला जाता है। इस खेल को कानून की नजरों से बचकर खेला जाता है। सट्टा मटका में रिस्का ज्यादा होता है लेकिन उससे ज्यादा फायदा होता है जिसके कारण अधिकतर लोग इसकी ओर आकर्षित होते हैं। 

कब शुरू हुआ सट्टा मटका?

भारत में सट्टा मटका की शुरुआत आजादी से पहले से मानी जाती है। उस जमाने में सट्टा मटका पारंपारिक तरीके से खेला जाता था। आज टेक्नोलॉजी के बढ़ते प्रभाव के कारण के समय सट्टा मटका को ऑनलाइन खेला जा सकता है लेकिन पहले सट्टा मटका ऑनलाइन नहीं खेला जाता था। उस समय मटके के अंदर पर्चियां डाली जाती थी और उसमें नंबर निकाला जाता था। शुरुआती समय में मटके के प्रयोग के कारण इस खेल को आज भी सट्टा मटका कहा जाता है। शुरुआत में कॉटन के दाम पर सट्टा खेला जाता था जो न्यूयॉर्क कॉटन एक्सचेंज से टेलीप्रिंटर के जरिए बॉम्बे कॉटन एक्सचेंज भेजा जाता था। उस समय कॉटन के शुरु होने और बंद होने के दाम पर सट्टा खेला जाता था ।

और जानकारी के लिए comments करे।।

Comments

Popular Posts